समाचार

यै हैं फ्यूचर के हॉट गैजेट

ghgh

नई दिल्ली। हाल ही में अमेरिका के लास वेगास में कंज्यूमर इलेक्ट्रॉनिक शो यानी सीइएस-2014 में फ्यूचर के कुछ गैजेट्स की झलक देखने को मिली। अच्छी खबर यह है कि आम यूजर की जरूरतों को देखते हुए गैजेट्स को डेवलप किया जा रहा है। आने वाले समय में विंडोज टैबलेट्स का पलड़ा भारी रहेगा और ऐसी टैबलेट्स डेवलप होंगी, जो टैबलेट और लैपटॉप दोनों का काम करेंगी। साथ ही, जल्द ही बाजार में लाइटवेट अडॉप्टर और सोलर चा‌र्ज्ड फोन डिस्प्ले भी एंट्री करेंगे। जानते हैं सीइएस-2014 के टॉप हॉट गैजेट्स के बारे में..

 

1. लाइटवेट लैपटॉप पावर अडॉप्टर

 

जल्द ही आपको लैपटॉप के भारी-भरकम अडॉप्टर से आजादी मिलने वाली है। काफी समय से इसकी जरूरत महसूस की जा रही थी। मोबाइल फोन के पावर अडॉप्टर की तरह लैपटॉप के अडॉप्टर्स भी यूएसबी बेस्ड हों। हैवी पावर अडॉप्टर्स की वजह से उन्हें कैरी करना मुश्किल होता है। सीइएस-2014 में इस टेक्नोलॉजी ने अपनी एंट्री कर ली है। फिनसिक्स ने इस ब्रेकथ्रू टेक्नोलॉजी को सीइएस में लॉन्च किया है, जो लैपटॉप अडॉप्टर के साइज और उसके वेट को कम कर देगी। नए अडॉप्टर में लैपटॉप प्लग के साथ हैंडी 2.1ए यूएसबी पोर्ट है और दोनों को एक साथ यूज किया जा सकता है। इसके अलावा, यह पुराने ट्रेडिशनल अडॉप्टर से हजार गुना तेज भी है। इसके अलावा, यह मैकबुक को भी सपोर्ट करता है। कंपनी इसे इस साल गर्मी में लॉन्च करने की प्लानिंग कर रही है।

 

2. कैनवास लैपटैब

 

काफी दिनों से खबरें आ रही थीं कि इंडियन कंपनी माइक्रोमैक्स डुअल बूट डिवाइस डेवलप कर रही है। उनके इस डेवलपमेंट की झलक सीइएस 2014 में देखने को मिल ही गई। माइक्रोमैक्स ने इंटेल प्रोसेसर पर चलने वाली लैपटैब डेवलप की है, जो विंडोज 8 साथ एंड्रॉयड 4.2.2 जैलीबीन पर भी चलेगी। डिवाइस को रीस्टार्ट करके दोनों ओएस पर स्विच किया जा सकता है। इसमें 10.1 इंच की आइपीएस डिस्प्ले, 2जीबी की रैम, 32 जीबी स्टोरेज (64 जीबी एक्सपेंडेबल), 7,400 एमएएच की बैटरी, 2 मेगापिक्सल का फ्रंट कैमरा, ब्लूटूथ वी4.0 और वाइ-फाइ कनेक्टिविटी जैसे फीचर्स होंगे। लैपटैब में कवर के साथ एक वायरलेस कीबोर्ड भी होगा। उम्मीद जताई जा रही है कि कंपनी फरवरी से इसे बाजार में बेचना शुरू कर देगा।

 

3. अल्काटेल सोलर पैनल डिसप्ले

 

अब जल्द ही यूजर्स को मोबाइल फोन के चार्जर्स से निजात मिल सकती है। अब चार्जिंग के लिए न तो पावर बैंक रखने की जरूरत पड़ने वाली है और न ही किसी यूएसबी पोर्ट की। जल्द ही मोबाइल फोन में ऐसे स्मार्ट सोलर पैनल डिस्प्ले आएंगे, जो फोन को सोलर लाइट की मदद से ऑटोमैटिकली चार्ज करते रहेंगे। सीइएस-2014 में इस टेक्नोलॉजी का प्रोटोटाइप अल्काटेल ने लॉन्च किया। कंपनी ने ऐसी स्क्रीन बनाई है, जिसके ऊपर ट्रांसपेरेंट सोलर पैनल लगा है, जो सोलर लाइट की मदद से मोबाइल को चार्ज करता रहेगा। हालांकि यह अभी केवल प्रोटोटाइप ही है और इसका कॉमर्शियल प्रोडक्शन 2015 तक ही उपलब्ध हो सकेगा। नेक्स्ट जेनरेशन स्मार्टफोंस के लिए यह अहम फीचर साबित होगा।

 

4. जोलो विंडोज 8 टैबलेट

 

इंडियन कंपनी जोलो ने सीइएस 2014 में पहली ऐसी टैबलेट लॉन्च की है, जो एएमडी प्रोसेसर पर चलेगी। जोलो विन टैबलेट में 10.1 इंच की 1366 गुणा 768 पिक्सल्स वाली डिस्प्ले, 2 जीबी की रैम, 1.0 गीगाह‌र्ट्ज की स्पीड वाला डुअल कोर मोबाइल एएमडी ए4 इलाइट मोबिलिटी प्रोसेसर, ग्राफिक्स के लिए रेडिऑन एचडी 8180 जीपीयू, 32 जीबी इंटरनल स्टोरेज, 2 मेगापिक्सल का रिअर कैमरा और 1 मेगापिक्सल का फ्रंट कैमरा, विंडोज 8 ओएस के साथ ब्लूटूथ और वाइ-फाइ जैसे फीचर्स होंगे। कंपनी का दावा है कि इसकी बैटरी 7 घंटे का बैकअप देगी। कंपनी इस महीने के आखिर तक इसे बाजार में लॉन्च कर देगी। उम्मीद जताई जा रही है कि इसकी कीमत 20 से 22 हजार रुपये के आसपास होगी।

 

5. सोनी स्मार्ट बैंड

 

सोनी ने इस बार कोई स्मार्ट वॉच या हाइ-फाइ गैजेट लॉन्च नहीं किया है, बल्कि फिटनेस गैजेट्स पर फोकस करते हुए स्मार्ट रिस्टबैंड लॉन्च किया है, जो आपकी हेल्थ पर भी नजर रखेगा। दिखने में यह आम रिस्टबैंड जैसा ही होगा। सोनी का कोर रिस्टबैंड एक प्लास्टिक से बना हुआ ट्रैकर है, जिसे रिस्टबैंड या पेंडेंट की तरह पहना जा सकेगा। इसकी खासियत होगी कि इसे स्मार्टफोन के साथ कनेक्ट करके और उसमें एक एप इंस्टॉल करके कैलोरीज, ट्रैवल डिस्टेंस, स्लिप एनालिसिस जैसी कई बॉडी एक्टिविटीज पर निगाह रखी जा सकेगी।

 

6. एयरटैम वायरलेस एचडीएमआई डोंगल

 

वायरलैस मिररिंग लेटेस्ट टेक्नोलॉजी है। मिररिंग टेक्नोलॉजी के जरिए हम कंप्यूटर या मोबाइल की स्क्रीन को दूसरी डिस्प्ले डिवाइसेज, जैसे- टीवी या प्रोजेक्टर पर एक्सेस कर सकते हैं। आमतौर पर मिररिंग के लिए एचडीएमआई केबल यूज की जाती है, जबकि मोबाइल की स्क्रीन को टीवी या प्रोजेक्टर पर एक्सेस करने के लिए एनएफसी फीचर का होना जरूरी है। एयरटैम ने इस प्रोसेस को बेहद ईजी बना दिया है। सीइएस-2014 में इंडीगोगो कंपनी ने एयरटैम डोंगल को लॉन्च किया, जो आपकी पीसी स्क्रीन को टीवी या प्रोजेक्टर पर डुप्लीकेट स्क्रीन बना देगा। वायरलेस एचडीएमआई टेक्नोलॉजी की मदद से यूजर पीसी टु पीसी, पीसी टु टीवी, पीसी टु प्रोजेक्टर, पीसी टु मॉनिटर मिररिंग कर सकते हैं।

 

7. इंटरनेट कनेक्टेड टूथब्रश

 

आज जब फ्रिज से लेकर पंखे, घड़ियां तक इंटरनेट से कनेक्ट हैं, तो ऐसे में टूथब्रश कहां पीछे रहने वाले थे। सीइएस-2014 में एक ऐसा टूथब्रश लॉन्च किया गया, जो डिजिटल व‌र्ल्ड से कनेक्ट हो सकता है। कोलीब्री ऐसा टूथब्रश है, जो डेंटल हाइजीन को इंप्रूव करता है। इस टूथब्रश को ब्लूटूथ से मोबाइल फोन से कनेक्ट किया जा सकता है। मोबाइल में एक एप डाउनलोड करने के बाद यह यह लोगों को बताएगा कि उन्होंने ठीक से ब्रश किया है या नहीं। इस टूथब्रश में 3 सेंसर एसेलेरोमीटर, मैगनेटोमीटर और जायरोस्कोप लगे हैं, जो ब्रश के हर स्ट्रोक की काउटिंग मोबाइल फोन को बताता है। साथ ही, यह भी बताता है कि ब्रश को सही मोशन में यूज किया जा रहा है या नहीं। ब्रशिंग के बाद की पूरी रिपोर्ट स्मार्टफोन पर एक्सेस की जा सकती है। इस ब्रश में एक बैटरी भी लगी है, जो दो से तीन हफ्ते का बैकअप देती है।

 

8. पैनासोनिक टफपैड

 

सीइएस-2014 में पैनासोनिक ने पहली 7 इंच की टफ टैबलेट लॉन्च की है, जो डस्ट, वाटरप्रूफ होने के साथ शॉकप्रूफ भी होगी। पैनासोनिक ने इसे प्रोफेशनल्स को ध्यान में रखकर डेवलप किया है। यह टैबलेट विंडोज 8 पर चलेगी और इसमें इंटेल कोर आई5/सेलरॉन प्रोसेसर के साथ 4 या 8 जीबी की रैम और 128 जीबी की एसएसडी ड्राइव लगी होगी। इसके अलावा, इसमें डुअल कैमरा सपोर्ट भी होगा। फ्रंट 2 मेगापिक्सल और बैक में 5 मेगापिक्सल का कैमरा होगा। इसमें ब्लूटूथ 4.0, 3जी, 4जी, यूएसबी 3.0 पोर्ट के साथ 3,220 एमएएच की पावरफुल बैटरी भी होगी। पैनासोनिक की इस टैबलेट का वजन मात्र 540 ग्राम होगा।

 

9. सैमसंग गैलेक्सी कैमरा 2

 

सीइएस में सैमसंग ने अपनी गैलेक्सी सीरीज के पहले एंड्रॉयड कैमरे को रीलॉन्च किया है। एंड्रॉयड पावर से चलने वाला सैमसंग गैलेक्सी कैमरा 2 अपने पहले वर्जन से काफी दमदार है। नए कैमरा में 16 मेगापिक्सल का बीएसआई सीमोस सेंसर, 21 एक्स ऑप्टिकल जूम के साथ ऑप्टिकल इमेज स्टैबलाइजेशन के साथ आईएसओ 3200 का ऑप्शन होगा। गैलेक्सी कैमरा 2 एंड्रॉयड 4.3 पर चलेगा और इसमें क्वैड-कोर प्रोसेसर के साथ 2 जीबी रैम, 8 जीबी स्टोरेज (64 जीबी एक्सपेंडेबल) 2,000 एमएएच की बैटरी के साथ 1280 गुणा 720 रिजॉल्यूशन पिक्सल्स वाली 4.8 इंच की टचस्क्रीन के साथ वाइ-फाइ कनेक्टिविटी, ब्लूटूथ और एनएएफसी जैसे फीचर्स भी होंगे।

 

10. एलजी लाइफबैंड टच

 

आने वाले वक्त में सभी मोबाइल गैजेट कंपनीज का जोर फिटनेस गैजेट डेवलप करने का है। सीइएस में इसका नजारा काफी आम रहा। कंपनियों का अगला टारगेट यूजर को हेल्थ कॉन्शियस बनाने का है। एलजी ने फिटनेस फ्रीक्स को देखते हुए नई फिटनेस बैंड लॉन्च की है, जिसमें ओएलइडी डिस्प्ले लगी है। यह वाटर रेसिस्टेंट है। इसे एंड्रॉयड और आइओएस डिवाइसेज के साथ एप के जरिए कनेक्ट कर सकते हैं। इसमें यूजर इनकमिंग कॉल्स के साथ स्टेप्स काउंटिंग, डिस्टेंस और कैलोरी का पता लगा सकते हैं। टच बैंड में म्यूजिक प्लेबैक को कंट्रोल करने का भी ऑप्शन है, जिसे कनेक्टेड डिवाइसेज के साथ एक्टिवेट किया जा सकता है।

नई दिल्ली। हाल ही में अमेरिका के लास वेगास में कंज्यूमर इलेक्ट्रॉनिक शो यानी सीइएस-2014 में फ्यूचर के कुछ गैजेट्स की झलक देखने को मिली। अच्छी खबर यह है कि आम यूजर की जरूरतों को देखते हुए गैजेट्स को डेवलप किया जा रहा है। आने वाले समय में विंडोज टैबलेट्स का पलड़ा भारी रहेगा और ऐसी टैबलेट्स डेवलप होंगी, जो टैबलेट और लैपटॉप दोनों का काम करेंगी। साथ ही, जल्द ही बाजार में लाइटवेट अडॉप्टर और सोलर चा‌र्ज्ड फोन डिस्प्ले भी एंट्री करेंगे। जानते हैं सीइएस-2014 के टॉप हॉट गैजेट्स के बारे में..

1. लाइटवेट लैपटॉप पावर अडॉप्टर

जल्द ही आपको लैपटॉप के भारी-भरकम अडॉप्टर से आजादी मिलने वाली है। काफी समय से इसकी जरूरत महसूस की जा रही थी। मोबाइल फोन के पावर अडॉप्टर की तरह लैपटॉप के अडॉप्टर्स भी यूएसबी बेस्ड हों। हैवी पावर अडॉप्टर्स की वजह से उन्हें कैरी करना मुश्किल होता है। सीइएस-2014 में इस टेक्नोलॉजी ने अपनी एंट्री कर ली है। फिनसिक्स ने इस ब्रेकथ्रू टेक्नोलॉजी को सीइएस में लॉन्च किया है, जो लैपटॉप अडॉप्टर के साइज और उसके वेट को कम कर देगी। नए अडॉप्टर में लैपटॉप प्लग के साथ हैंडी 2.1ए यूएसबी पोर्ट है और दोनों को एक साथ यूज किया जा सकता है। इसके अलावा, यह पुराने ट्रेडिशनल अडॉप्टर से हजार गुना तेज भी है। इसके अलावा, यह मैकबुक को भी सपोर्ट करता है। कंपनी इसे इस साल गर्मी में लॉन्च करने की प्लानिंग कर रही है।

2. कैनवास लैपटैब

काफी दिनों से खबरें आ रही थीं कि इंडियन कंपनी माइक्रोमैक्स डुअल बूट डिवाइस डेवलप कर रही है। उनके इस डेवलपमेंट की झलक सीइएस 2014 में देखने को मिल ही गई। माइक्रोमैक्स ने इंटेल प्रोसेसर पर चलने वाली लैपटैब डेवलप की है, जो विंडोज 8 साथ एंड्रॉयड 4.2.2 जैलीबीन पर भी चलेगी। डिवाइस को रीस्टार्ट करके दोनों ओएस पर स्विच किया जा सकता है। इसमें 10.1 इंच की आइपीएस डिस्प्ले, 2जीबी की रैम, 32 जीबी स्टोरेज (64 जीबी एक्सपेंडेबल), 7,400 एमएएच की बैटरी, 2 मेगापिक्सल का फ्रंट कैमरा, ब्लूटूथ वी4.0 और वाइ-फाइ कनेक्टिविटी जैसे फीचर्स होंगे। लैपटैब में कवर के साथ एक वायरलेस कीबोर्ड भी होगा। उम्मीद जताई जा रही है कि कंपनी फरवरी से इसे बाजार में बेचना शुरू कर देगा।

3. अल्काटेल सोलर पैनल डिसप्ले

अब जल्द ही यूजर्स को मोबाइल फोन के चार्जर्स से निजात मिल सकती है। अब चार्जिंग के लिए न तो पावर बैंक रखने की जरूरत पड़ने वाली है और न ही किसी यूएसबी पोर्ट की। जल्द ही मोबाइल फोन में ऐसे स्मार्ट सोलर पैनल डिस्प्ले आएंगे, जो फोन को सोलर लाइट की मदद से ऑटोमैटिकली चार्ज करते रहेंगे। सीइएस-2014 में इस टेक्नोलॉजी का प्रोटोटाइप अल्काटेल ने लॉन्च किया। कंपनी ने ऐसी स्क्रीन बनाई है, जिसके ऊपर ट्रांसपेरेंट सोलर पैनल लगा है, जो सोलर लाइट की मदद से मोबाइल को चार्ज करता रहेगा। हालांकि यह अभी केवल प्रोटोटाइप ही है और इसका कॉमर्शियल प्रोडक्शन 2015 तक ही उपलब्ध हो सकेगा। नेक्स्ट जेनरेशन स्मार्टफोंस के लिए यह अहम फीचर साबित होगा।

4. जोलो विंडोज 8 टैबलेट

इंडियन कंपनी जोलो ने सीइएस 2014 में पहली ऐसी टैबलेट लॉन्च की है, जो एएमडी प्रोसेसर पर चलेगी। जोलो विन टैबलेट में 10.1 इंच की 1366 गुणा 768 पिक्सल्स वाली डिस्प्ले, 2 जीबी की रैम, 1.0 गीगाह‌र्ट्ज की स्पीड वाला डुअल कोर मोबाइल एएमडी ए4 इलाइट मोबिलिटी प्रोसेसर, ग्राफिक्स के लिए रेडिऑन एचडी 8180 जीपीयू, 32 जीबी इंटरनल स्टोरेज, 2 मेगापिक्सल का रिअर कैमरा और 1 मेगापिक्सल का फ्रंट कैमरा, विंडोज 8 ओएस के साथ ब्लूटूथ और वाइ-फाइ जैसे फीचर्स होंगे। कंपनी का दावा है कि इसकी बैटरी 7 घंटे का बैकअप देगी। कंपनी इस महीने के आखिर तक इसे बाजार में लॉन्च कर देगी। उम्मीद जताई जा रही है कि इसकी कीमत 20 से 22 हजार रुपये के आसपास होगी।

5. सोनी स्मार्ट बैंड

सोनी ने इस बार कोई स्मार्ट वॉच या हाइ-फाइ गैजेट लॉन्च नहीं किया है, बल्कि फिटनेस गैजेट्स पर फोकस करते हुए स्मार्ट रिस्टबैंड लॉन्च किया है, जो आपकी हेल्थ पर भी नजर रखेगा। दिखने में यह आम रिस्टबैंड जैसा ही होगा। सोनी का कोर रिस्टबैंड एक प्लास्टिक से बना हुआ ट्रैकर है, जिसे रिस्टबैंड या पेंडेंट की तरह पहना जा सकेगा। इसकी खासियत होगी कि इसे स्मार्टफोन के साथ कनेक्ट करके और उसमें एक एप इंस्टॉल करके कैलोरीज, ट्रैवल डिस्टेंस, स्लिप एनालिसिस जैसी कई बॉडी एक्टिविटीज पर निगाह रखी जा सकेगी।

6. एयरटैम वायरलेस एचडीएमआई डोंगल

वायरलैस मिररिंग लेटेस्ट टेक्नोलॉजी है। मिररिंग टेक्नोलॉजी के जरिए हम कंप्यूटर या मोबाइल की स्क्रीन को दूसरी डिस्प्ले डिवाइसेज, जैसे- टीवी या प्रोजेक्टर पर एक्सेस कर सकते हैं। आमतौर पर मिररिंग के लिए एचडीएमआई केबल यूज की जाती है, जबकि मोबाइल की स्क्रीन को टीवी या प्रोजेक्टर पर एक्सेस करने के लिए एनएफसी फीचर का होना जरूरी है। एयरटैम ने इस प्रोसेस को बेहद ईजी बना दिया है। सीइएस-2014 में इंडीगोगो कंपनी ने एयरटैम डोंगल को लॉन्च किया, जो आपकी पीसी स्क्रीन को टीवी या प्रोजेक्टर पर डुप्लीकेट स्क्रीन बना देगा। वायरलेस एचडीएमआई टेक्नोलॉजी की मदद से यूजर पीसी टु पीसी, पीसी टु टीवी, पीसी टु प्रोजेक्टर, पीसी टु मॉनिटर मिररिंग कर सकते हैं।

7. इंटरनेट कनेक्टेड टूथब्रश

आज जब फ्रिज से लेकर पंखे, घड़ियां तक इंटरनेट से कनेक्ट हैं, तो ऐसे में टूथब्रश कहां पीछे रहने वाले थे। सीइएस-2014 में एक ऐसा टूथब्रश लॉन्च किया गया, जो डिजिटल व‌र्ल्ड से कनेक्ट हो सकता है। कोलीब्री ऐसा टूथब्रश है, जो डेंटल हाइजीन को इंप्रूव करता है। इस टूथब्रश को ब्लूटूथ से मोबाइल फोन से कनेक्ट किया जा सकता है। मोबाइल में एक एप डाउनलोड करने के बाद यह यह लोगों को बताएगा कि उन्होंने ठीक से ब्रश किया है या नहीं। इस टूथब्रश में 3 सेंसर एसेलेरोमीटर, मैगनेटोमीटर और जायरोस्कोप लगे हैं, जो ब्रश के हर स्ट्रोक की काउटिंग मोबाइल फोन को बताता है। साथ ही, यह भी बताता है कि ब्रश को सही मोशन में यूज किया जा रहा है या नहीं। ब्रशिंग के बाद की पूरी रिपोर्ट स्मार्टफोन पर एक्सेस की जा सकती है। इस ब्रश में एक बैटरी भी लगी है, जो दो से तीन हफ्ते का बैकअप देती है।

8. पैनासोनिक टफपैड

सीइएस-2014 में पैनासोनिक ने पहली 7 इंच की टफ टैबलेट लॉन्च की है, जो डस्ट, वाटरप्रूफ होने के साथ शॉकप्रूफ भी होगी। पैनासोनिक ने इसे प्रोफेशनल्स को ध्यान में रखकर डेवलप किया है। यह टैबलेट विंडोज 8 पर चलेगी और इसमें इंटेल कोर आई5/सेलरॉन प्रोसेसर के साथ 4 या 8 जीबी की रैम और 128 जीबी की एसएसडी ड्राइव लगी होगी। इसके अलावा, इसमें डुअल कैमरा सपोर्ट भी होगा। फ्रंट 2 मेगापिक्सल और बैक में 5 मेगापिक्सल का कैमरा होगा। इसमें ब्लूटूथ 4.0, 3जी, 4जी, यूएसबी 3.0 पोर्ट के साथ 3,220 एमएएच की पावरफुल बैटरी भी होगी। पैनासोनिक की इस टैबलेट का वजन मात्र 540 ग्राम होगा।

9. सैमसंग गैलेक्सी कैमरा 2

सीइएस में सैमसंग ने अपनी गैलेक्सी सीरीज के पहले एंड्रॉयड कैमरे को रीलॉन्च किया है। एंड्रॉयड पावर से चलने वाला सैमसंग गैलेक्सी कैमरा 2 अपने पहले वर्जन से काफी दमदार है। नए कैमरा में 16 मेगापिक्सल का बीएसआई सीमोस सेंसर, 21 एक्स ऑप्टिकल जूम के साथ ऑप्टिकल इमेज स्टैबलाइजेशन के साथ आईएसओ 3200 का ऑप्शन होगा। गैलेक्सी कैमरा 2 एंड्रॉयड 4.3 पर चलेगा और इसमें क्वैड-कोर प्रोसेसर के साथ 2 जीबी रैम, 8 जीबी स्टोरेज (64 जीबी एक्सपेंडेबल) 2,000 एमएएच की बैटरी के साथ 1280 गुणा 720 रिजॉल्यूशन पिक्सल्स वाली 4.8 इंच की टचस्क्रीन के साथ वाइ-फाइ कनेक्टिविटी, ब्लूटूथ और एनएएफसी जैसे फीचर्स भी होंगे।

10. एलजी लाइफबैंड टच

आने वाले वक्त में सभी मोबाइल गैजेट कंपनीज का जोर फिटनेस गैजेट डेवलप करने का है। सीइएस में इसका नजारा काफी आम रहा। कंपनियों का अगला टारगेट यूजर को हेल्थ कॉन्शियस बनाने का है। एलजी ने फिटनेस फ्रीक्स को देखते हुए नई फिटनेस बैंड लॉन्च की है, जिसमें ओएलइडी डिस्प्ले लगी है। यह वाटर रेसिस्टेंट है। इसे एंड्रॉयड और आइओएस डिवाइसेज के साथ एप के जरिए कनेक्ट कर सकते हैं। इसमें यूजर इनकमिंग कॉल्स के साथ स्टेप्स काउंटिंग, डिस्टेंस और कैलोरी का पता लगा सकते हैं। टच बैंड में म्यूजिक प्लेबैक को कंट्रोल करने का भी ऑप्शन है, जिसे कनेक्टेड डिवाइसेज के साथ एक्टिवेट किया जा सकता है।

 

हमसे जुड़े

जरा हट के

पुराने समाचार यहाँ देखें