बड़हिया शिक्षा समाचार सामाजिक

भुला दिये गये अयोध्या में शहीद दिनेशचन्द्र

  • 6 दिसम्बर 1992 को अयोध्या में विवादित ढ़ांचे को गिराने के दौरान हुई थी उनकी मौत

  • उमा भारती,स्व कैलाशपति मिश्र,सुशील कुमार मोदी सहित बिहार भाजपा के तमाम बड़े नेता उनके शहीद दिवस पर स्मारक पर आकर माल्यार्पण कर चुके हैं तथा अनेकों बार उनकी प्रतिमा लगाने का संकल्प ले चुके हैं

  • 22 वर्ष बीत जाने के बाद भी गंगासराय में उनके अर्द्धनिर्मित स्मारक में नहीं लगी उनकी प्रतिमा

  • प्रतिवर्ष 6 दिसम्बर को भाजपा और उनके सहयोगी संगठनों द्वारा मनाया जाता है शहीद दिवस

  • प्रतिवर्ष 6 दिसम्बर को उनके स्मारक पर भाजपा के लोगों द्वारा उनकी प्रतिमा लगाने की कसमें खाई जाती है, मगर उसके बाद फिर एक वर्ष तक उन्हें शहीद की याद नहीं आती

बड़हिया: आज से लगभग 22वर्ष पूर्व अयोध्या में विवादित ढ़ांचे को गिराने के दौरान शहीद हुए बड़हिया प्रखंड के गंगासराय ग्राम निवासी स्व दिनेशचन्द्र सिंह की भाजपा एवं उसके सहयोगी संगठनों द्वारा की जा रही उपेक्षा से गंगासराय सहित बड़हिया प्रखंड के लोगों में गहरा आक्रोश है।ग्रामीणों ने बताया कि दिनेशचन्द्र के शहीद होने के उपरान्त भाजपा एवं आरएसएस के कार्यकर्ताओं ने गंगासराय ग्राम में उनका स्मारक बनाने तथा उनकी प्रतिमा स्थापित करने के बड़े बड़े बादे किये थे।स्थानीय कार्यकर्ताओं के प्रयास से स्मारक के निर्माण का कार्य तो शुरू हुआ।मगर राशि के अभाव में निर्माण कार्य बंद हो गया और 22 वर्ष बीत जाने के बाद भी न तो स्मारक का निर्माण कार्य पूरा हो सका और न ही उनकी प्रतिमा स्थापित की जा सकी।प्रतिवर्ष 6 दिसम्बर को गंगासराय में उनके स्मारक स्थल पर भाजपा तथा आरएसएस के कार्यकर्ताओं द्वारा शहीद दिनेशचन्द्र को श्रद्धांजलि दी जाती है और इस दौरान हर वर्ष स्मारक के निर्माण कार्य को पूरा करने तथा उनकी प्रतिमा स्थापित करने की कसमें भी खाई जाती है।मगर वहां से हटते ही भाजपा के लोग शहीदस्थल पर किये गये अपने संकल्प को भूल जाते हैं और शहीद के परिजन तथा ग्रामीण एक बार फिर अपने को ठगा सा महसूस करते हैं।विदित हो कि भाजपा की वर्तमान केन्द्रीय मंत्री उमा भारती,पूर्व राज्यपाल स्व कैलाशपति मिश्र,बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी सहित बिहार भाजपा के तमाम बड़े नेता शहीद के स्मारक पर आकर उनको श्रद्धांजलि दे चुके हैं तथा अनेकों बार स्मारक के निर्माण के बड़े बड़े वादे किये गये।दर्जनों बार स्मारक निर्माण के लिए समिति भी बनायी गयी।मगर शहीद की आत्मा आज भी अपने उद्धारक का वाट जोह रही है।गंगासराय ग्राम पंचायत के उपमुखिया रामदास सिंह धीरज,रंजीत कुमार,शंभू कुमार,कन्हैया कुमार सहित विपक्षी दलों के अनेक कार्यकर्ताओं ने इसे मुद्दा बनाते हुए भाजपा पर शहीद के नाम पर राजनीति करने तथा शहीद की उपेक्षा करने का आरोप लगाया है।वहीं दूसरी ओर दिनेशचन्द्र स्मारक निर्माण समिति के वर्तमान संयोजक गोपालचन्द्र सिंह ने इस संबंध में बातचीत के दौरान भरोसा दिलाया कि जल्द से जल्द स्मारक का निर्माण कार्य तथा उनकी प्रतिमा लगाने का कार्य पूरा कर लिया जायेगा।
बड़हिया फोटो 02ःअपने उद्धारक की वाट जोह रहा गंगासराय में अर्द्धनिर्मित शहीद दिनेशचन्द्र स्मारक

About the author

AJIT KUMAR

अजित कुमार: आप पेशे से पत्रकार है। आप इलेक्ट्रोनिक और प्रिंट मीडिया में बड़हिया प्रखंड के लिए सेवा दे रहे है। बड़हिया में विकास को लेकर आप हर संभव प्रयास कर रहे है। बड़हिया के लिए अपना पूरा समय और सहयोग देते है। हर तरह से लोगों का उत्साह वर्धन भी करते है।

हमसे जुड़े

जरा हट के

पुराने समाचार यहाँ देखें