बड़हिया समाचार सम्पादकीय सामाजिक

एनएच80: जर्जर पुल पुलिया दे रहे दुर्घटनाओं को आमंत्रण

आजादी के दशक में ही निर्मित जर्जर पुल पुलिया की मरम्मति के प्रति विभाग उदासीन

एनएच80 पर अवस्थित इन जर्जर पुलों की बजह से कभी भी हो सकता है बड़ा हादसा

बड़हिया: बड़हिया नगर एवं प्रखंड क्षेत्र से होकर गुजरनेवाली एनएच80 पर अवस्थित दर्जनों पुल पुलिया की स्थिति अत्यन्त ही जर्जर हो चुकी है।विदित हो कि बड़हिया और लखीसराय के बीच आजादी के दशक में ही पक्की सड़क का निर्माण कराया गया था।सड़क के बीच में गंगा और हरूहर सहित नदी नालों के जल के निकास के लिए बड़हिया बाहा पर,चूहरचक,गंगासराय,जैतपुर,दरियापुर,बालगुदर सहित अनेक स्थानों पर पुल और पुलिया का निर्माण कराया गया था।इन्हीं पुल पुलियों पर से होकर प्रत्येक दिन बालू,कोयला तथा अन्य सामानों से लदे हजारों भारी वाहन इधर से उधर आवागमन करते हैं।उत्तर बिहार को देश के अन्य हिस्सों से जोड़नेवाली अपने समय की एकमात्र इस मुख्य सड़क पर समय दर समय यात्री वाहनों तथा मालवाहक वाहनों की संख्या में बेतहाशा वृद्धि होती गयी।वाहनों की बढ़ती संख्या को ध्यान में रखते हुए केन्द्र सरकार द्वारा इस सड़क को नेशनल हाईवे का दर्जा देकर इसका जीर्णोद्धार कराया गया।मगर नेशलन हाईवे में तब्दील इस सड़क के जीर्णोद्धार के दौरान भी इन पुल पुलियों की जर्जर स्थिति को विभाग द्वारा नजरअंदाज कर दिया गया और इन पुल पुलियों की मरम्मति नहीं करायी गयी।निर्माण के लगभग पचास साल बाद वर्तमान समय में इन सभी पुल पुलियों की स्थिति अत्यन्त ही जर्जर हो चुकी है।लगभग सभी पुलों का रेलिंग ध्वस्त हो गया है।अन्दर से भी पुल की स्थिति काफी कमजोर हो चुकी है।अगर समय रहते विभाग द्वारा इन जर्जर पुल पुलियों की मरम्मति अथवा पुनर्निमाण नहीं कराया गया तो कभी भी कोई गंभीर हादसा हो सकता है।स्थानीय सांसद,विधायक तथा सूबे के अनेक मंत्री एनएच80 पर अवस्थित इन जर्जर पुलों पर से होकर गुजरते हैं।मगर इन पुलों के जीर्णोद्वार की दिशा में किसी भी जनप्रतिनिधि द्वारा कोई पहल नहीं किया जाना आमलोगों में चर्चा का विषय बना हुआ है।टूटे रेंलिंग तथा जर्जर पुल की बजह से किसी गंभीर हादसे की आशंका से आमलोग हलकान और चिंतित हैं।

a (152)

a (166)
बड़हिया फोटो 01,02ःबड़हिया और लखीसराय के बीच एनएच80 पर अवस्थित चूहरचक तथा गंगासराय पुल

About the author

AJIT KUMAR

अजित कुमार: आप पेशे से पत्रकार है। आप इलेक्ट्रोनिक और प्रिंट मीडिया में बड़हिया प्रखंड के लिए सेवा दे रहे है। बड़हिया में विकास को लेकर आप हर संभव प्रयास कर रहे है। बड़हिया के लिए अपना पूरा समय और सहयोग देते है। हर तरह से लोगों का उत्साह वर्धन भी करते है।

हमसे जुड़े

जरा हट के

पुराने समाचार यहाँ देखें